June 28, 2022

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

वोट के लिए रिश्वत देने की पेशकश करने वाले नेताओं पर लगे प्रतिबंध

 यूरेशिया संवाददाता

मेरठ। भ्रष्टाचार रोकने की जिम्मेदारी उठाने वाले नेता ही जब भ्रष्टाचार करने के लिए आम जनता को खुले आम रिश्वत देने की पेशकश करें फिर भ्रष्टाचार रोकेगा कौन?

एन्टी करप्शन मूवमेंट भारत की वर्चुअल बैठक को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष डा ओमकार गुप्ता ने कहा है कि देश की पवित्र संसद और राज्यों की विधानसभाओं में पहुंचने के लिए नेतागण खुले आम जनता को रिश्वत देने का प्रस्ताव रख रहें हैं लेकिन हमारा चुनाव आयोग रिश्वत देने की पेशकश करने वाले नेताओं पर किसी भी प्रकार की कार्यवाही करने से बच रहा है।डा गुप्ता ने कहा है कि वोट लेने के लिए जनता को प्रलोभन देने वाले नेताओं पर भ्रष्टाचार उन्मूलन कानून के तहत कार्रवाई कराई जाए।

एन्टी करप्शन मूवमेंट भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा ओमकार गुप्ता ने आशंका प्रकट करते हुए कहा कि यदि नेताओं ने जनता को वोट के बदले रिश्वत देना बन्द नहीं किया तब हर कर्मचारी और अधिकारी को खुले आम रिश्वत देने और रिश्वत लेने का लाईसेंस मिल जायेगा फिर हमारे देश का बच्चा बच्चा भ्रष्टाचार के दलदल में धंसता चला जायेगा।

एन्टी करप्शन मूवमेंट भारत ने आम वोटर्स का आव्हान करते हुए कहा कि रिश्वत देने की पेशकश करने वाले नेताओं का चुनावी बहिष्कार करें और चुनाव आयोग भी ऐसे रिश्वत खोर नेताओं को चुनाव लडने के अयोग्य घोषित करे।

               डाॅ ओमकार गुप्ता

                राष्ट्रीय अध्यक्ष 

      एन्टी करप्शन मूवमेंट भारत