July 3, 2022

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

एक के बाद एक ह्त्या होने के बाद बदमाशों का न पकड़ा जाना पुलिस अधिकारियों के अपराध पर नियंत्रण के दावों की पोल खोल रहा

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ।जिले में अलग-अलग जगह पर एक के बाद एक हत्या के मामले सामने आये जिनमे से पुलिस अभी किसी एक का भी खुलासा नहीं कर पाई । सोचने की बात तो ये है कि कुछ मामलो में पुलिस के पास अपराधियों की सी सी टी वी की फुटेज भी है बावजूद इसके पुलिस हत्यारोपियों का पता लगाने में नाकाम है। पिछले तीन दिनों के बाद एक खुलेआम हत्या होने से पुलिस अधिकारियों के अपराध पर नियंत्रण के दावों की पोल खुल गई। जहां एक दिन में दिनदहाड़े पार्षद और बसपा नेता की गोलियों से भूनकर हत्या कर डाली, तो वहीं दो किशोरों की निर्मम हत्या कर दी गई। इसके अलावा लावड़ के जंगल में ट्यूबवेल के नीचे युवक का शव खून से लथपथ मिला। लिसाड़ी गेट में पति ने अपनी पत्नी को पीट पीटकर मार डाला। लगातार हुई इन हत्याओं में से पुलिस एक भी मामले में किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी। यहा तक कि मंगलवार को फिर से बदमाशों ने जानी थानाक्षेत्र में पूर्व ब्लॉक प्रमुख के बेटे को गोलियों से भून डाला। इन सभी हत्याओं में खुलासा नहीं होने से जहां लोगों में आक्रोश पनप रहा है, वहीं पुलिस का दावा है कि जिस लाइन पर वह काम शुरू करती है, वह कुछ दूर चलकर बंद हो जाती है। हत्यारोपियों का अभी नाम तक पता नहीं लगा और नामजद आरोपियों को भी पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी।

पार्षद जुबेर अंसारी हत्याकांड : करीबी शक के दायरे में, पूछताछ जारी

मेडिकल थाने में।दो किशोरों की हत्या: सीडीआर निकाली, बीटीएस उठाया, ड्रोन चलाया मगर हुआ कुछ नहीं

रोहित सैनी हत्याकांड : सिर में हमले से मौत, हादसा बताने की कोशिश

सना हत्याकांड : नामजद पति गिरफ्त में नहीं और अब । बाफर गांव में पूर्व ब्लॉक प्रमुख के बेटे की गोली मारकर हत्या