May 26, 2022

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

तालिबान नेता अब्दुल गनी बरादर से मिले सीआईए के निदेशक

अमेरिका को 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से लोगों को निकालने का काम पूरा कर लेने का आदेश्ा देते हुए तालिबान ने साफ तौर पर कहा कि यह समय सीमा नहीं बढ़ायी जाएगी। बाइडेन प्रशासन ने अफगानिस्तान से सभी अमेरिकी सैनिकों की वापसी के लिए 31 अगस्त की तारीख तय की है। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने प्रेस वार्ता में कहा कि उनका समूह समय सीमा ‘बढ़ाए जाने की बात नहीं’ स्वीकार करेगा। मुजाहिद ने कहा कि देश में जनजीवन सामान्य हो रहा है, लेकिन हवाईअड्डे पर अव्यवस्था की समस्या बनी हुई है। मुजाहिद ने अमेरिका से अपील की कि वह अफगान लोगों को देश छोड़ने के लिए न उकसाए। उन्होंने कहा कि तालिबान हर मामले का हल बातचीत से निकालना चाहते हैं और विदेशी दूतावासों को भी काम बंद नहीं करना चाहिए, हम उन्हें सुरक्षा का यकीन दिलाते हैं।

 

मुजाहिद ने कहा कि उन्हें तालिबान और ‘सीआईए’ के बीच किसी भी बैठक की जानकारी नहीं है। हालांकि मुजाहिद ने इस तरह की किसी बैठक से इनकार भी नहीं किया।

 

दरअसल ऐसी सूचनाएं है कि अमेरिका की केन्द्रीय खुफिया एजेंसी (सीआईए) के निदेशक ने तालिबान के नेता अब्दुल गनी बरादर के साथ काबुल में सोमवार को एक गुप्त बैठक की थी। मंगलवार को वाशिंगटन में मीडिया की एक खबर में यह जानकारी दी गई है। बताया गया है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद दोनों पक्षों के बीच यह पहली उच्च स्तर की बैठक थी। ‘वाशिंगटन पोस्ट’ ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से कहा कि सीआईए के निदेशक विलियम जे बर्न्स ने सोमवार को काबुल में बरादर के साथ एक गुप्त बैठक की। माना जा रहा है कि चर्चा में 31 अगस्त की निकासी समय सीमा भी एक मुद्दा थी