July 3, 2022

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

एड्स नियंत्रण कार्यक्रम में लें एनजीओ का सहयोग : हीरालाल

  • जनपद में की गई एचआईवी नियंत्रण कार्यक्रम की समीक्षा
  • नाको उप्र के निदेशक हीरालाल ने कहा- मुजफ्फरनगर को मॉडल के रूप में स्थापित करें

यूरेशिया संवाददाता

मुजफ्फरनगर, 9 जुलाई 2021। एचआईवी-एडस नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (नाको) उप्र के निदेशक हीरालाल, आईएएस की अध्यक्षता में जिला कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।एचआईवी-एडस नियंत्रण कार्यक्रम की समीक्षा करते हुये हीरालाल ने जनपद को प्रदेश में प्रथम स्थान पर लाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कार्यक्रम में 90-90-90 के फार्मूले ( 90 प्रतिशत एचआईवी मरीजों का चेकअप) को पूर्णतया लागू करने हेतु पूर्ण प्रयास करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा दूसरे प्रदेश से अच्छी जानकारी प्राप्त कर उसे अपने जनपद में लागू करें तथा एनजीओ व विभिन्न संस्थाओं की सहायता लेकर मुजफ्फरनगर को मॉडल के रूप में स्थापित करें। उन्होंने कहा कि जनपद में कार्य कर रहे समस्त एनजीओ का एचआईवी कार्यक्रम में सहयोग लें।जिला क्षय रोग अधिकारी डा. लोकेश चन्द्र गुप्ता ने बताया जनपद में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा एम.एस. फौजदार के मार्ग दर्शन में एचआईवी एवं टीबी उन्मूलन कार्यक्रम के अन्तर्गत सभी को निःशुल्क एवं पूर्ण सुविधा प्रदान की जा रही है। एचआईवी की जांच जिला चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय, जानसठ, बुढाना, खतौली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर स्थित आईसीटीसी केन्द्रों पर निःशुल्क उपलब्ध है। बलगम की जांच एवं टीवी के उपचार की सुविधा भी समस्त स्वास्थ्य केन्द्रों पर निःशुल्क उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त चिन्हित एफआईसीटीसी केन्द्रों पर एचआईवी की जांच निःशुल्क उपलब्ध है।बैठक में जिला क्षय रोग अधिकारी डा. लोकेश चन्द्र गुप्ता, डा. पी.के. त्यागी, ब्लड बैंक प्रभारी, ए.आर.टी. प्रभारी डा. वी.के. जौहरी, आईसीटीसी, पीपीटीसीटीसीटी, एसटीआई, ब्लडबैंक, एनजीओ टीआई का स्टाफ एवं एनटीईपी स्टाफ उपस्थित रहा।