October 23, 2020

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

शारदीय नवरात्र: मंदिरों में गूंजे माता के जयकारे, घर-घर में सजा माता का दरबार

नवरात्र के पहले दिन श्रद्धा, भक्ति और आस्था की लहरें भक्ति रस के समंदर में उमड़ी। मंदिरों में पूजा की थाल लेकर श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ गोल घेरे में अपनी बारी प्रतीक्षा की। मंदिर माता के जयकारों से गूंज उठे। श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन कर मंगल कामना की। घर-घर में श्रद्धालुओं ने व्रत रखकर घर में भक्ति भाव से की घट स्थापना।

मनसा देवी मंदिर कालिया गढ़ी में मुख्य पुजारी भगवत गिरी ने माता का शृंगार कर आरती की। श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ माता के दर्शन किए। मंदिर समिति की ओर से प्रसाद न चढ़ाने का दावा किया गया था लेकिन सुबह से ही उमड़ी श्रद्धालुओं ने माता को नारियल चुनरी व श्रृंगार का सामान तथा प्रसाद अर्पित कर मंगल कामना की।

गोल मंदिर जय देवी नगर में सुबह से श्रद्धालुओं की कतारें लगी। माता का भव्य श्रृंगार किया गया। सेवादारों ने थर्मल स्क्रीनिंग कर मास्क पहनने वाले श्रद्धालुओं को ही दिया प्रवेश दिया। मास्क पहनकर कई महिलाएं नहीं आई तो उन्होंने चुन्नी व दुपट्टे को ही मुंह पर ढका। मंदिर के भीतर और बाहर सोशल डिस्टेंसिंग को पांच पांच फुट की दूरी पर घेरे बनाकर कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन किया गया। श्री दुर्गा परिवार के सदस्यों ने मुख्य द्वार पर श्रद्धालु की थर्मल स्क्रीनिंग की और हाथ सैनिटाइज कराए। माता के भक्तिमय भजनों से अध्यात्म का संचार हुआ। मनोज शर्मा, मुकेश राणा, शिव शंकर, मनोज अग्रवाल दवा वाले, राकेश शर्मा, रोहित शर्मा, जतिन गोयल, आर्यन, कमल आदि ने व्यवस्था संभाली।

सदर काली माई मंदिर में माता के दर्शन को श्रद्धालु उमड़े। मुख्य पुजारी सोंकेत जेसू बनर्जी ने बताया कि रात में 9:00 बजे माता की महाआरती का रोजाना आयोजन किया जा रहा है। इसका फेसबुक लाइव पर भी प्रसारण होता है। औघड़नाथ मंदिर में भी माता के दर्शन को श्रद्धालु उमड़े कतारों में लगे श्रद्धालुओं ने माता की जय जय कार से जयघोष किया। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दर्शन कराए गए। इसी के साथ भूमिया माता मंदिर भूमिया पुल, सती माता मंदिर सूरजकुंड, बाबा मनोहर नाथ मंदिर सूरजकुंड, सरस्वती देवी मंदिर स्पोर्ट्स मार्केट, कंठी माता मंदिर बच्चा पार्क आदि में भी माता के दर्शन किए।