August 2, 2021

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

यूपी चुनावों से पहले योगी सरकार का तोहफा, 17 जिलों में मिलेगा फ्री वाई-फाई

  • उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार का तोहफा
  • 17 जिलों के लोगों को जल्‍द मिलने जा रही है फ्री वाई फाई की सुविधा
  • लखनऊ, आगरा, कानपुर समेत इन जिलों में 217 स्‍थान चिह्नित

उत्‍तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। इससे पहले योगी सरकार ने 17 जिलों के लोगों को फ्री वाई-फाई सुविधा देने का फैसला लिया है। राज्‍य में 217 जगहों पर फ्री वाई-फाई का लोग लाभ उठा सकेंगे। बड़े शहरों में दो स्‍थानों जबकि छोटे शहरों में एक जगह पर यह सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी।यूपी सरकार ने लखनऊ, कानपुर, आगरा, अलीगढ़, वाराणसी, प्रयागराज, झांसी, बरेली, सहारनपुर, मुरादाबाद, गोरखपुर, अयोध्या, मेरठ, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, मथुरा-वृंदावन और फिरोजाबाद में 200 से ज्यादा जगहों में फ्री वाई-फाई सुविधा देने का फैसला लिया है। फ्री वाई-फाई की ये सुविधा खासतौर से बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, तहसील, कचहरी, ब्लॉक और रजिस्ट्रार कार्यालय के आसपास दी जाएगी।

29 प्रस्‍तावों को मिली हरी झंडी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में यूपी कैबिनेट की बैठक में 29 प्रस्तावों को हरी झंडी दी गई है। बैठक में 29 अहम प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान की गई है। इसमें कई विभागों के प्रस्ताव शामिल हैं। अयोध्या के संबंधित तीन प्रस्ताव पास हुए हैं। एक लोक निर्माण विभाग से संबंधित है। अयोध्या-अकबरपुर बसखारी मार्ग 115.18 करोड़ की लागत से बनेगा।

दूसरा प्रस्ताव साढ़े 13 किलोमीटर की सड़क का है। इस पर 132.87 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा तीसरा प्रस्ताव माया बाजार के पास घनी आबादी से बचने के लिए 3 किलोमीटर बाई पास बनाने का प्रस्ताव किया जा रहा है, जिसको बनाने में 61.33 करोड़ की लागत आएगी।

गोवर्धन, मथुरा के लिए बनेगा मार्ग

मथुरा के लिए प्रस्ताव पास किया गया है। कोसी, नंदगांव, बरसाना, गोवर्धन, मथुरा तक के लिए मार्ग बनाया जाएगा जो यमुना एक्सप्रेस से जोड़ने वाला मार्ग है। 82 किलोमीटर का ये मार्ग बनाया जाएगा। इस मार्ग का चौड़ीकरण होना है।