March 2, 2021

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

वेंक्टेश्वरा में चल रहे दो दिवसीय खेल महोत्सव ’’स्पर्धा-2021’’ का शानदार समापन

अन्तर्राष्ट्रीय खेल स्पर्धाओ में भारतीय युवा फहरा रहे है परचम- डॉ0 सुधीर गिरि, चेयरमैन

अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो
मेरठ। दिल्ली-रूडकी बाईपास स्थित वेंक्टेश्वरा संस्थान में आयोजित दो दिवसीय खेल महोत्सव ’’स्पर्धा-2021 का आज शानदार समापन हुआ। इन दो दिनों में हुई एक दर्जन से अधिक खेल प्रतियोगिताओं के विजेताओं को वेंक्टेश्वरा समूह के चेयरमैन डॉ0 सुधीर गिरि एवं प्रतिकुलाधिपति डॉ0 राजीव त्यागी ने ट्रॉफी एवं मेडल देकर सम्मानित किया।

वेंक्टेश्वरा संस्थान के ध्यानचन्द खेल परिसर में आयोजित दो दिनी खेल महोत्सव की क्लोजिंग सेरेमनी का शुभारम्भ समूह चेयरमैन डॉ0 सुधीर गिरि, प्रतिकुलाधिपति डॉ0 राजीव त्यागी ने फीता काटकर किया।

आज आयोजित प्रतियोगिताओ में लम्बी कूद (बालिका वर्ग) में रेशू कुमारी प्रथम, अंशू चौधरी द्वितीय एवं चंचल सिंह ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। वही बालक वर्ग मे आदित्य सिंह, आरिफ एवं सलीम ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया।

भाला फेंक प्रतियोगिता में बालक वर्ग में संदीप, भूपाल सिंह एवं रिजवान ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया। रस्साकशी प्रतियोगिता में नर्सिंग का बालक वर्ग में येलो हाउस विजयी रहा, वही बालिका वर्ग में रेड हाउस विनर रहा।

सीमित ओवरो के टी-20 मैच में नर्सिंग ब्लू हाउस ने पैरामेडिकल रेड हाउस को 6 विकेट से हराकर ’’लाला अमरनाथ ट्रॉफी अपने नाम कर ली।

सभी प्रतियोगिताओ के विजेताओ एवं उपविजेताओ को मुख्य अतिथि चेयरमैन सुधीर गिरि एवं प्रतिकुलाधिपति डॉ0 राजीव त्यागी ने ट्रॉफी एवं मेडल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर कुलपति प्रो0 पी0के0 भारती, कुलसचिव डॉ0 पीयूष पाण्डे, नर्सिंग प्राचार्या डॉ0 ऐना ब्राउन, संयुक्त कुलसचिव डॉ0 राजेश सिंह, परिसर निदेशक डॉ0 प्र्रभात श्रीवास्तव, उपनिदेशक दूरस्थ शिक्षा अलका सिंह, अरुण गोस्वामी, नेहा बंगा, दिव्या दिनेशन, प्रतिभा, अफजल एवं मीडिया प्रभारी विश्वास राणा आदि लोग उपस्थित रहे।

You may have missed

1 min read

चोरी गए वाहन क्लेम मामले में मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग का अहम फैसला, बीमा कंपनी को देनी पड़ेगी ब्याज सहित क्लेम राशि दिनेश शुक्ल फरवरी 13, 2021 13:48 LIKE चोरी गए वाहन क्लेम मामले में मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग का अहम फैसला, बीमा कंपनी को देनी पड़ेगी ब्याज सहित क्लेम राशि वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि बीमित वाहन के चोरी के प्रकरण में जिस कारण क्लेम निरस्त किया गया है एवं जिस कारण घटना घटित हुई है में परस्पर संबंध होना आवश्यक है। केवल तकनीकी कारण से क्लेम को निरस्त नहीं किया जा सकता। भोपाल। मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग ने बीमा कंपनी के खिलाफ वाहन मालिक के पक्ष में फैसला सुनाया है। दस साल की लंबी लड़ाई के बाद चोरी गए चार पहिया वाहन मालिक को ब्याज सहित क्लेम की पूरी राशि देने का उपभोक्ता आयोग ने आदेश दिया है। वाहन मालिक की तरफ से पैरवी करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि फरियादी देवेंद्र सक्सेना ने एक बोलेरो जीप वर्ष 2009 में खरीदी थी। जिसका बीमा इफको टोक्यो कंपनी से कराया था। उपरोक्त वाहन 30-08-2010 की रात चोरी हो गया। जिसकी प्रथम सूचना रिपोर्ट पुलिस थाने में दर्ज कराई गई और बीमा कंपनी से आवेदक द्वारा क्लेम की राशि की मांग की गई। इसे भी पढ़ें: शिवराज सरकार सिर्फ विज्ञापनों में चला रही माफिया के खिलाफ अभियान- जीतू पटवारी लेकिन बीमा कंपनी द्वारा क्लेम इस आधार पर निरस्त कर दिया गया कि घटना के समय वाहन का व्यवसायिक उपयोग किया जा रहा था। आवेदक द्वारा बीमा कंपनी के खिलाफ प्रकरण जिला उपभोक्ता आयोग दतिया में प्रस्तुत किया गया। जिला आयोग दतिया द्वार आवेदक के परिवाद को स्वीकार कर क्लेम राशि का भुगतान किए जाने का आदेश किया था। जिसके विरुद्ध बीमा कंपनी द्वारा अपील राज्य आयोग भोपाल में की गई। राज्य आयोग भोपाल द्वारा अपने आदेश में यह व्यवस्था दी गई कि घटना एवं क्लेम निरस्तीकरण दोनों में परस्पर संबंध होना चाहिए। चोरी के प्रकरण में वाहन के व्यवसायिक उपयोग का आधार स्वीकार योग्य नहीं है। इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में बढ़ी गिद्धों की संख्या, पर्यावरण संरक्षक गिद्धों की हुई थी गणना आयोग द्वारा बीमा कंपनी की अपील निरस्त कर जिला फोरम का आदेश यथावत रखा गया। वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि बीमित वाहन के चोरी के प्रकरण में जिस कारण क्लेम निरस्त किया गया है एवं जिस कारण घटना घटित हुई है में परस्पर संबंध होना आवश्यक है। केवल तकनीकी कारण से क्लेम को निरस्त नहीं किया जा सकता।