March 2, 2021

युरेशिया

राष्ट्रहित सर्वोपरि

वृक्ष ही प्राणवायु का आधार डॉ० मुछाल

सुनील चौहान. यूरेशिया संवादाता

बडौत दिगंबर जैन कॉलेज के बी एड विभाग में आज डॉक्टर हरेंद्र कुमार के निर्देशन में वृक्षारोपण रैली का आयोजन किया गया। रैली का उद्देश्य जनसमूह को वृक्षारोपण के प्रति संवेदनशीलता और वृक्षारोपण करने हेतु उत्साहित करना था। रेली बड़ौत के विभिन्न मार्गो से होती हुई जनता वैदिक इंटर कॉलेज के प्रांगण पर समाप्त हुई तत्पश्चात वातावरण के लिए छायादार एवं फलदार वृक्ष जैसे आंवला ,अशोक ,नीम ,पीपल और औषधीय पौधे जैसे पत्थरचट्टा ,नागर मोथा, अश्वगंधा गिलोय इत्यादि लगाए गए। तत्पश्चात एक गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें सभी शिक्षकों एवं विद्यार्थियों नें अपने विचार रखें।
डॉक्टर हरेंद्र कुमार ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा की वृक्ष हमारे जीवन के लिए बेहद उपयोगी हैं वातावरण में जिस प्रकार प्रदूषण फैल रहा है वह मानव स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है मानव स्वास्थ्य को अच्छा रखने हेतु एवं पर्यावरण को शुद्ध रखने के लिए हमें समय-समय पर वृक्षारोपण करना चाहिए।
बीएड विभाग अध्यक्ष एवं रोवर लीडर डॉ महेश कुमार मुछाल ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि वृक्ष प्राण वायु का आधार है वातावरण में जितनी अधिक प्राणवायु होगी मानव जीवन उतना ही समृद्ध और खुशहाल रहेगा अतः हमें छात्रों के अंदर वृक्षों के प्रति संवेदनशीलता स्थापित करनी चाहिए।
टोली लीडर महिमा चौधरी ने वृक्षारोपण के आयोजन के लिए विभाग का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर सभी छात्रों ने यह शपथ ली कि वह अपने प्रत्येक जन्मदिवस पर केक वृक्ष लगाएंगे। इस अवसर पर डॉ कविता अग्रवाल, डॉ दीपक जैन, डॉक्टर सतीश पाल सिंह, डॉक्टर सुनीता, अमिता, राजन ,सुधाकर, रूपक, सुधीर माणिक आदि मौजूद रहे।

You may have missed

1 min read

चोरी गए वाहन क्लेम मामले में मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग का अहम फैसला, बीमा कंपनी को देनी पड़ेगी ब्याज सहित क्लेम राशि दिनेश शुक्ल फरवरी 13, 2021 13:48 LIKE चोरी गए वाहन क्लेम मामले में मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग का अहम फैसला, बीमा कंपनी को देनी पड़ेगी ब्याज सहित क्लेम राशि वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि बीमित वाहन के चोरी के प्रकरण में जिस कारण क्लेम निरस्त किया गया है एवं जिस कारण घटना घटित हुई है में परस्पर संबंध होना आवश्यक है। केवल तकनीकी कारण से क्लेम को निरस्त नहीं किया जा सकता। भोपाल। मध्य प्रदेश राज्य उपभोक्ता आयोग ने बीमा कंपनी के खिलाफ वाहन मालिक के पक्ष में फैसला सुनाया है। दस साल की लंबी लड़ाई के बाद चोरी गए चार पहिया वाहन मालिक को ब्याज सहित क्लेम की पूरी राशि देने का उपभोक्ता आयोग ने आदेश दिया है। वाहन मालिक की तरफ से पैरवी करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि फरियादी देवेंद्र सक्सेना ने एक बोलेरो जीप वर्ष 2009 में खरीदी थी। जिसका बीमा इफको टोक्यो कंपनी से कराया था। उपरोक्त वाहन 30-08-2010 की रात चोरी हो गया। जिसकी प्रथम सूचना रिपोर्ट पुलिस थाने में दर्ज कराई गई और बीमा कंपनी से आवेदक द्वारा क्लेम की राशि की मांग की गई। इसे भी पढ़ें: शिवराज सरकार सिर्फ विज्ञापनों में चला रही माफिया के खिलाफ अभियान- जीतू पटवारी लेकिन बीमा कंपनी द्वारा क्लेम इस आधार पर निरस्त कर दिया गया कि घटना के समय वाहन का व्यवसायिक उपयोग किया जा रहा था। आवेदक द्वारा बीमा कंपनी के खिलाफ प्रकरण जिला उपभोक्ता आयोग दतिया में प्रस्तुत किया गया। जिला आयोग दतिया द्वार आवेदक के परिवाद को स्वीकार कर क्लेम राशि का भुगतान किए जाने का आदेश किया था। जिसके विरुद्ध बीमा कंपनी द्वारा अपील राज्य आयोग भोपाल में की गई। राज्य आयोग भोपाल द्वारा अपने आदेश में यह व्यवस्था दी गई कि घटना एवं क्लेम निरस्तीकरण दोनों में परस्पर संबंध होना चाहिए। चोरी के प्रकरण में वाहन के व्यवसायिक उपयोग का आधार स्वीकार योग्य नहीं है। इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में बढ़ी गिद्धों की संख्या, पर्यावरण संरक्षक गिद्धों की हुई थी गणना आयोग द्वारा बीमा कंपनी की अपील निरस्त कर जिला फोरम का आदेश यथावत रखा गया। वरिष्ठ अधिवक्ता ललित कुमार गुप्ता ने बताया कि बीमित वाहन के चोरी के प्रकरण में जिस कारण क्लेम निरस्त किया गया है एवं जिस कारण घटना घटित हुई है में परस्पर संबंध होना आवश्यक है। केवल तकनीकी कारण से क्लेम को निरस्त नहीं किया जा सकता।